समर्थक / Followers

शुक्रवार, 16 जुलाई 2010

रूपये का चेहरा अब बदला-बदला सा

आपने रूपये का चेहरा देखा. कितना अजीब लगता था कि दुनिया की इतनी बड़ी अर्थव्यवस्था के पास अपने रूपये का कोई चिन्ह तक नहीं है. खैर अमेरिकी डालर, जापानी येन, ब्रिटिश पौंड स्टलि’ग और यूरोपीय संघ के यूरो की तरह अब भारतीय रुपये को भी अपना चिह्न मिल गया है. केबिनेट ने कल रुपये के चिन्ह को मंजूरी दे दी। यह चिह्न भारतीय रुपए को विभिन्न भाषाओं में एक ही तरह से पेश करने में भी सहायक होगा। इससे भारतीय रुपए की पाकिस्तान, नेपाल, श्रीलंका और इंडोनेशिया जैसे देशों की मुद्राओं से अलग पहचान बनेगी, जहाँ रुपया या रुपइया चलता है. भारतीय रूपये के इस इस चिन्ह को ‘यूनीकोड मानक, आईएसओ-आईईसी 10646 और आईएस 13194’ में शामिल करने के बाद इसका इस्तेमाल भारत और भारत के बाहर किया जा सकेगा।
गौरतलब है कि इसके लिए तीन हजार एंट्रीज आई थी, जिसमें पांच को चुना गया था। आईआईटी के पोस्ट ग्रेजुएट डी उदय कुमार द्वारा डिजाइन किये गये चिन्ह को पांच प्रविष्टियों में चुना गया। यह चिन्ह हिन्दी का अक्षर ‘र’ है, जिसमें एक समानान्तर लाइन और डाली गयी है। यह अंग्रेजी के अक्षर ‘आर’ से भी काफी मिलता जुलता है। इसकी खूबसूरती पर हर कोई दंग है. अभिनेत्री सोनम कपूर के शब्दों पर गौर करें-''यह बहुत खूबसूरत है, यह भविष्योन्मुखी और भारतीयता से भरा है, यह आधुनिक भारत की तरह लगता है।’'

रूपये के इस नए चिन्ह को व्यावहारिक रूप में इस्तेमाल करने के लिए काफी तकनिकी पहलुओं से भी गुजरना पड़ेगा. चिह्न की एनकोडिंग के बाद नैसकॉम रुपए को सॉफ्टवेअर में शामिल करने के लिए भारतीय सॉफ्टवेअर विकास कंपनियों से संपर्क साधेगा ताकि दुनिया भर में कंप्यूटर इस्तेमाल करने वाले लोग इसका आसानी से उपयोग कर सकें, भले ही यह चिह्न कीबोर्ड पर न बना हो। गौरतलब है कि यूरो का निशान भारत में इस्तेमाल होने वाले कीबोर्ड में नहीं है लेकिन उसका इस्तेमाल होता है। भारत में बनने वाले कीबोर्ड में इस चिह्न को शामिल करने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी निर्माता एसोसिएशन चिह्न की अधिसूचना जारी होने के बाद इसे कीबोर्ड में शामिल करने की पहल भी करेगा।रूपये के इस चिहन के इस्तेमाल के लिए भले ही लोग प्रोत्साहित हो रहे हैं, पर रूपये के निशान को भारतीय मानकों में एन्कोड करने की प्रक्रिया में छह महीने लगेगा जबकि यूनीकोड और अन्य मानकों में ऐसा करने के लिए अभी डेढ से दो साल का वक्त लगेगा । चिह्न को भारतीय मानकों में शामिल करने के लिए भारतीय मानक ब्यूरो की मौजूदा सूची में भी संशोधन करना होगा। इंडियन स्क्रिप्ट कोड फॉर इन्फॉरमेशन इंटरचेंज के तहत रुपए का चिह्न शामिल करना होगा. आईएससीआईआई ही कंप्यूटर प्रोसेसिंग के लिए कीबोर्ड ले-आउट सहित भारतीय भाषाओं के विभिन्न कोड की व्याख्या करता है।फ़िलहाल इंतजार रहेगा इस चिन्ह को वास्तविक रूप में आँखों से देखने और महसूस करने का.

23 टिप्‍पणियां:

माधव ने कहा…

informative post

राज भाटिय़ा ने कहा…

सिर्फ़ एक चिन्ह से कुछ नही होने वाला, हम अपने मुंह मियां मिठू बन रहे है, देश को आगे ले जाये देश के नागरिको को जागरुक करे तभी हमारा रुप्या खुद वा खुद चमकेगा... अभी जिस लाईन् मै हम रुपये कॊ खडा करना चाह्ते है, जरा उन से मुकाबला कर के देखे.... क्या रुपया वहां दिखता भी है... पहले देश को ऊपर लाये रुपया तो खुद चमकेगा.
आप का लेख बहुत सुंदर लगा, लेकिन सचाई यह नही

सम्वेदना के स्वर ने कहा…

कई सालों तक रुपये का खिलवाड़ देखा है, उतार चढाव देखा है, खेला है इसके साथ, बेचा है, ख़रीदा है...फॉरेक्स ट्रेजरी में काम के दौरान... यह चिह्न एक पहचान देता है, वर्ना हमारे लिए तो आज भी ये चिह्न और बेचिह्न वाली मुद्राएँ सिर्फ अंगरेज़ी के संक्षिपप्तीकृत अक्षर भर हैं … INR, GBP, USD, EUR, JPY … बस!!

अंकुर द्विवेदी ने कहा…

वास्तव में दुनिया में भारतीय मुद्रा की एक अलग पहचान होनी चाहिए और रूपया का बदला हुआ यह नया चेहरा बदलते हुए भारत की नयी तस्वीर के रुप में विश्व के सामने आयेगा। सुंदर लेख।

Sudhir ने कहा…

I have uploaded a Font with Indian Rupee Symbol - Download and Use Free -- Jai Hind

http://qlikviewvsolap.blogspot.com/2010/07/download-ruppe-font.html

Coral ने कहा…

FINALLY INDIAN rupee has got its identity! well it might take a year or so to get the symbol in action to gain acceptance in India and two years for international acceptance.

Nice and informative post ...

Udan Tashtari ने कहा…

रुपये का अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपना अलग चेहरा होना सुखद है.

Akanksha~आकांक्षा ने कहा…

रूपये का चेहरा बदलना भी जरुरी था..देर आये, दुरुस्त आये.

Indranil Bhattacharjee ........."सैल" ने कहा…

चलिए रुपये को एक अलग चिन्ह मिला, ये अच्छी बात है ... पर यदि सच में भारत सरकार रुपये को डॉलर के मुकाबले चमकते देखना चाहती है ... तो देश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करना होगा

Bhanwar Singh ने कहा…

शानदार रुपया...

raghav ने कहा…

रूपये को मजबूत करना भी जरुरी...जानकारी के लिए आभार.

SR Bharti ने कहा…

आशा की जानी चाहिए कि भारतीय अर्थव्यवस्था भी अब मजबूत होगी...अच्छी पोस्ट.

शरद कुमार ने कहा…

यह रुपया भी तो खूब खेल खेलाता है..जानकारीप्रद पोस्ट.

शरद कुमार ने कहा…

@ sUDHIUR,

i WILL TRY UR sOFTWARE...

ersymops ने कहा…

अभी देखते जाइये, क्या-क्या बदलता है..जानकारी विस्तार से अच्छी लगी.

ersymops ने कहा…

अभी देखते जाइये, क्या-क्या बदलता है..जानकारी विस्तार से अच्छी लगी.

Amit Kumar ने कहा…

रूपये के साथ-साथ गरीबों का चेहरा भी तो बदले...

Ram Shiv Murti Yadav ने कहा…

अच्छा लगता है सुनकर..

Ratnesh Kr. Maurya ने कहा…

It Looks nice.

Dr. Brajesh Swaroop ने कहा…

अच्छा तो तब लगता जब रुपया दूसरों का भी चेहरा बदलता..

Mohd. Ghazi : गुफ्तगू ने कहा…

ज्ञानप्रद !!

Shyama ने कहा…

हम भी तो देखें, कैसा दिखता है.

Shahroz ने कहा…

अभी तो सच्ची-मुच्ची वाली नोट पर देखना बाकी है.