समर्थक / Followers

बुधवार, 10 अगस्त 2011

अपने जन्मदिन का खुशनुमा अहसास...

आज मेरा जन्मदिन है। वाकई इस दिन का महत्त्व भी है, आखिर यह दिन न होता तो फिर दुनिया में कैसे आते. जन्मदिन खुशियाँ भी देता है तो कई बार चिंता में भी डाल देता है कि एक साल और गुजर गए. खैर यही जीवन-चक्र है. आज भी स्कूल के वो दिन याद आते हैं, जब हम साथियों को टाफियाँ बाँटकर जन्म दिन मनाया करते थे। कई बार स्कूल की प्रातः सभा में यह ऐलान भी किया जाता कि आज फलां का जन्मदिन है। कई दोस्त तो सरप्राइज देने के लिए अपने हाथों से बना ग्रीटिंग कार्ड भी सामूहिक रूप से देते थे। जब हम जवाहर नवोदय विद्यालय, जीयनपुर- आजमगढ़ में पढ़ते थे तो कुछ ऐसे ही बर्थडे मनाते थे। इलाहाबाद विश्वविद्यालय में पढ़ने के लिए आये तो बर्थडे का मतलब होता-किसी थियेटर में जाकर बढ़िया फिल्म देखना और शाम को मित्रों के साथ जमकर चिकन-करी खाना। हर मित्र इन्तजार करता कि कब किसी का बर्थडे आये और उसे बकरा बनाया जाय। बर्थडे केक जैसी चीजें तो एक औपचारिकता मात्र होती। ऐसे दोस्त-यार बड़ी काम की चीज होते, जिनकी कोई गर्लफ्रेन्ड होती। ऐसे लोग बर्थडे की शोभा बढ़ाने के लिए जरूर बुलाये जाते। वो बन्धुवर तो हफ्तेभर पहले से ही दोस्तों को समझाता कि यार ध्यान रखना अपनी गर्लफ्रेण्ड के साथ आ रहा हूँ। मेरी इज्जत का जनाजा न निकालना। कुछ भी हो उन बर्थडे का अपना अलग ही मजा था।



जब सरकारी सेवा में आया तो बर्थडे का मतलब भी बदलता गया।



बर्थडे बकायदा एक त्यौहार हो गया और उसी के साथ नये-नये शगल भी पालते गये। बर्थडे केक, रंग-बिरंगे गुब्बारे, खूबसूरत और मंहगे गिफ्ट, किसी बढ़िया होटल का लजीज डिनर और इन सबके बीच सुन्दर परिधानों मे सजा हुआ व्यक्तित्व...कब जीवन का अंग बन गया, पता ही नहीं चला। पहले कभी किसी मित्र या रिश्तेदार का जन्मदिन पर भेजा हुआ ग्रीटिंग कार्ड मिलता था तो बड़ी आत्मीयता महसूस होती थी, पर अब तो सुबह से ही एस0एम0एस0, ई-मेल, फेसबुक पर संदेशों और आरकुटिंग स्क्रैप्स की बौछार आ जाती है। कई लोग तो एक ही मैसेज स्थाई रूप से सेव किये रहते हैं, और ज्यों ही किसी का बर्थडे आया उसे फारवर्ड कर दिया। कभी एक अदद गुलाब ही बर्थडे के लिए काफी था पर अब तो फूलों का पूरा गुच्छा अर्थात बुके का जमाना है। अगली सुबह जब इन बुके को देखिये तो उनका मुरझाया चेहरा देखकर पिछला दिन याद आता है कि कितनी दिल्लगी से ये प्रस्तुत किये गये थे।



वाकई जन्मदिन भी बड़ी आत्मीय चीज है. कई बार यह मुड़कर देखने को मजबूर भी करती है कि पिछले सालों का लेखा-जोखा लिया जाय. पर कुछ भी हो, इस दिन से जुडी इतनी यादें जेहन में बसी हैं कि यह दिन कभी भी नहीं भूल पाता. आप सभी लोगों की आत्मीयता, प्यार और स्नेह हर दिन को और भी खुशनुमा बनाते हैं !!


27 टिप्‍पणियां:

कुश्वंश ने कहा…

जन्मदिन की असीम शुभकामनाएं, आप यूं ही महकते रहे और सबको महकाते रहे.

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…

जन्मदिन की बहुत बहुत शुभकामनाएँ सर।

सादर

Shah Nawaz ने कहा…

हमारी ओर से भी जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएँ!

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ (Zakir Ali 'Rajnish') ने कहा…

आरज़ू चाँद सी निखर जाए,
जिंदगी रौशनी से भर जाए,
बारिशें हों वहाँ पे खुशियों की,
जिस तरफ आपकी नज़र जाए।
जन्‍मदिन की हार्दिक शुभकामनाएँ!
------
बारात उड़ गई!
ब्‍लॉग के लिए ज़रूरी चीजें!

Ratnesh Kr. Maurya ने कहा…

कृष्ण कुमार जी !

आपको, आपके जन्मदिन पर बधाई और हार्दिक शुभकामनाएं! आने वाला प्रत्येक नया दिन, आपके जीवन में अनेकानेक सफलताएँ एवं अपार खुशियाँ लेकर आए! इस अवसर पर ईश्वर से यही प्रार्थना है कि वह, वैभव, ऐश्वर्य, उन्नति, प्रगति, आदर्श, स्वास्थ्य, प्रसिद्धि और समृद्धि के साथ आजीवन आपको जीवन पथ पर गतिमान रखे !!

Ratnesh Kr. Maurya ने कहा…

कृष्ण कुमार जी !
आपको, आपके जन्मदिन पर बधाई और हार्दिक शुभकामनाएं! आने वाला प्रत्येक नया दिन, आपके जीवन में अनेकानेक सफलताएँ एवं अपार खुशियाँ लेकर आए! इस अवसर पर ईश्वर से यही प्रार्थना है कि वह, वैभव, ऐश्वर्य, उन्नति, प्रगति, आदर्श, स्वास्थ्य, प्रसिद्धि और समृद्धि के साथ आजीवन आपको जीवन पथ पर गतिमान रखे !!

Ratnesh Kr. Maurya ने कहा…

बर्थ-डे वाला केक हमें भी चाहिए...

Dr. Brajesh Swaroop ने कहा…

भाई के.के. जी को उनके जन्म दिवस पर बधाइयाँ. आप यूँ ही साहित्य और ब्लागिंग के क्षेत्र में चमक बिखेरते रहें !

Dr. Brajesh Swaroop ने कहा…

Janmdin ke bahane achhi post likhi hai.

रवीन्द्र प्रभात ने कहा…

जन्म दिवस की बहुत बधाई और हार्दिक शुभकामनाएँ.

Ram Shiv Murti Yadav ने कहा…

कृष्ण कुमार को जन्मदिन की यहाँ भी बधाई.

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

जन्मदिन की शुभकामनायें

Amit Kumar ने कहा…

उत्तम भावाभिव्यक्ति. के.के. भैया जी को जन्मदिन पर बधाई.

वन्दना ने कहा…

आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
प्रस्तुति आज के तेताला का आकर्षण बनी है
तेताला पर अपनी पोस्ट देखियेगा और अपने विचारों से
अवगत कराइयेगा ।

http://tetalaa.blogspot.com/

Shahroz ने कहा…

आप जिओ हज़ारों साल,
साल के दिन हों पचास हज़ार
ये दिन आये बारम्बार,
आये आपके जीवन में बहार !

सक्रिय ब्लागर और हिन्दी साहित्य के चमकते सितारे कृष्ण कुमार यादव जी को जन्म-दिवस की ढेरों बधाइयाँ.

Shahroz ने कहा…

आप जिओ हज़ारों साल,
साल के दिन हों पचास हज़ार
ये दिन आये बारम्बार,
आये आपके जीवन में बहार !

सक्रिय ब्लागर और हिन्दी साहित्य के चमकते सितारे कृष्ण कुमार यादव जी को जन्म-दिवस की ढेरों बधाइयाँ.

सदा ने कहा…

जन्‍मदिन की बहुत-बहुत बधाई के साथ ढेर सारी शुभकामनाएं ।

SR Bharti ने कहा…

Sir, Wish u a very-very Happy Birthday !!

SR Bharti ने कहा…

सुहृदय, मिलनसार और साहित्य प्रेमी
सबसे अन्तर्मन से वह जुड़ जाते हैं
एक बार जब बने निकटता आपसे
सब जन के.के. जी के सादर गुण गाते हैं !!

....कृष्ण कुमार यादव सर जी को जन्मदिन की बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !

डॉ टी एस दराल ने कहा…

आपको जन्मदिन की हार्दिक बधाई और शुभकामनायें यादव जी .

Akanksha~आकांक्षा ने कहा…

इस खुशनुमा अहसास और जन्मदिन की बधाइयाँ.

Sawai Singh Rajpurohit ने कहा…

जन्‍मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं।

Sawai Singh Rajpurohit ने कहा…

ब्लॉग की 100 वीं पोस्ट पर आपका स्वागत है!

!!अवलोकन हेतु यहाँ प्रतिदिन पधारे!!

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

जन्मदिवस की ढेरों शुभकामनायें।

सतीश सक्सेना ने कहा…

हम भी अगर बच्चे होते, नाम हमारा होता बबलू डब्लू
खाने को मिलते लड्डू,और दुनिया कहती हैप्पी बर्थ डे टू यू !!
शुभकामनायें आपको !

Vijai Mathur ने कहा…

जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनायें।

Dr.Sushila Gupta ने कहा…

bar-bar din ye aae

bar-bar dil ye gae

tum jiyo hazaro saal

happy birthday too u


janm-din ki hardik badhaee sweekar kare.