समर्थक / Followers

शुक्रवार, 5 दिसंबर 2014

माँ और पिता


जिसकी कोख से जन्म होता : वह माँ
जिसके पेट पर खेलने में मजा आता : वह पिता !

जो धारण करती : वह माँ
जो सिंचन करता : वह पिता !

जो गोद में लेकर सहलाती : वह माँ
जो हाथों में धर कर ऊंचा उठाता : वह पिता!

जो उंगली पकड़कर चलना सिखाती: वह माँ
जो कंधों पर लेकर दौड़ना सिखाता : वह पिता!

जो डूब-डूब गगरी करती: वह माँ
जो हर-हर गंगे करता : वह पिता!

जो आँचल तले दबाती: वह माँ
जो पिंजड़े से बाहर निकालता : वह पिता!

जो व्याकुल होती : वह माँ
जो संयम सिखाता : वह पिता!

जो आशीर्वचन जैसी: वह माँ
जो नमस्कार तुल्य : वह पिता!

जिसके सिवा जीवन नहीं : वह माँ
जिसके सिवा भविष्य नहीं: वह पिता !!

एक टिप्पणी भेजें