समर्थक / Followers

रविवार, 16 मार्च 2014

स्नेह से रँग दो दुनिया सारी


प्यार के रंग से भरो पिचकारी
स्नेह से रँग दो दुनिया सारी 
ये रंग न जाने कोई जात न बोली
आप सभी को मुबारक हो यह होली !!


एक टिप्पणी भेजें