समर्थक / Followers

रविवार, 1 जनवरी 2012

नव वर्ष की बेला आई..




नव वर्ष की बेला आई,
खुशियों की सौगातें लाई।
कर गुजरने का है मौका,
सद्भावों की नौका लाई।

नया वर्ष है, नया तराना,
झूमें-नाचें गाएं गाना।
और नया संकल्प हमारा,
कभी किसी को नहीं सताना।

बदला साल, कैलेण्डर बदला,
बदला है इस तरह जमाना।
भेजें सबको नेह निमंत्रण,
नए वर्ष का गाएं तराना।

नव वर्ष-2012 की हार्दिक बधाई

कृष्ण कुमार यादव
एक टिप्पणी भेजें